Wednesday, December 5, 2018

रूसी क्रांति के परिणाम


  • रूसी क्रांति (1917 ई.) 20वीं शताब्दी के इतिहास की युगान्तकारी घटना थी। इस क्रांति ने केवल रूस नहीं बल्कि पूरे विश्व को प्रभावित किया। इस क्रांति के परिणाम विश्व के लिए अत्यन्त दूरगामी सिद्ध हुए।

  1. सामाजिक असमानताएं समाप्त हो गयीं।
  2. गैर-रूसी जातियों को समानता का स्तर प्राप्त हुआ तथा उन्हें भाषा एवं संस्कृति की रक्षा का अवसर प्राप्त हुआ।
  3. लेनिन के नेतृत्व में रूस में साम्यवादी शासन की स्थापना हुई।
  4. इस क्रांति के फलस्वरूप रूस में औद्योगिक विकास की गति तेज हो गयी।
  5. रूस सोवियत संघ के रूप में विश्व में महाशक्ति के रूप में अवतरित हुआ।
  6. इस क्रांति के फलस्वरूप रूस में सदियों से चले आ रहे स्वेच्छाचारी एवं निरंकुश जारशाही शासन समाप्त हो गया।
  7. इस क्रांति के परिणामस्वरूप रूस में किसानों तथा श्रमिकों का शोषण समाप्त हो गया।
  8. अभिजात वर्ग (सामन्त) एवं चर्च की शक्ति का अंत हो गया।
  9. देश से पूंजीवादी व्यवस्था समाप्त हो गयी तथा देश की सम्पूर्ण सम्पत्ति एवं उद्योगों पर सरकारी नियन्त्रण स्थापित हो गया।
  10. रूस में लोकतन्त्रात्मक व्यवस्था कि आधार पर किसानों एवं श्रमिकों की सरकार बनी।
  11. देश के संसाधनों का प्रयोग व्यक्तिगत हित के लिए न होकर बहुजन हिताय किया जाने लगा।
  12. रूस में समाज-कल्याणकारी राज्य की स्थापना हुई।
  13. रूसी साम्राज्यवाद का अन्त हो गया। जो देश रूस के उपनिवेश थे उन्हें स्वतंत्रता प्रदान कर दी गयी।

No comments:

Post a Comment

Loading...