किस प्रतिहार राजा के काल में प्रसिद्ध ग्वालियर प्रशस्ति की रचना की गई?



gvaliyar prashasti ki rachana



निम्नलिखित में से किस प्रतिहार राजा ने 'आदि वराह' की उपाधि ग्रहण की?
अ. मिहिर भोज
ब. नागभट्ट
स. वत्सराज
द. महिपाल
उत्तर- अ

गुर्जरों को किस शासक ने पराजित किया?
अ. प्रभाकर वर्धन
ब. राज्यवर्धन
स. हर्षवर्धन
द. शशांक
उत्तर- अ

चीनी यात्री जिसने भीनमाल की यात्रा की थी?
अ. फाह्यान
ब. सुंगयुन
स. ह्वेनसांग
द. इत्सिंग
उत्तर- स 

किस प्रतिहार राजा के काल में प्रसिद्ध ग्वालियर प्रशस्ति की रचना की गई?
अ. भोज प्रथम
ब. रामभद्र
स. वत्सराज
द. भोज द्वितीय
उत्तर- अ

प्रतिहार एवं पाल शासकों पर अपनी विजय की खुशी में ध्रुव ने गंगा व जमुना के चिह्नों को सम्मिलित किया?
अ. राष्ट्रकूट कुलचिह्न (एम्बलम) में
ब. चोल कुलचिह्न (एम्बलम) में
स. चंदेल कुलचिह्न (एम्बलम) में
द. पाल कुलचिह्न (एम्बलम) में
उत्तर- अ

आदि वराह की उपाधि किस राजपूत शासक ने धारण की वह है?
अ. परमार भोज
ब. पृथ्वीराज चौहान
स. मिहिर भोज
द. विग्रहराज चतुर्थ
उत्तर- स

जोधपुर के निकट ओसियां में मंदिरों का समूह जिसकी देन है, वे हैं?
अ. राठौड़
ब. गहलोत
स. चौहान
द. प्रतिहार
उत्तर- द

इतिहासकार आर सी मजूमदार के अनुसार गुर्जर प्रतिहारों ने कितनी शताब्दी तक अरब आक्रमणकारियों के लिए बाधक का काम किया?
अ. दूसरी शताब्दी से चौथी शताब्दी तक
ब. तीसरी शताब्दी से पांचवी शताब्दी तक
स. छठी शताब्दी से 15वीं शताब्दी तक
द. 12वीं शताब्दी से 15वी शताब्दी तक
उत्तर- स

Post a Comment

Previous Post Next Post