स्कन्दगुप्त नाटक के पात्र

 'धातुसेन' जयशंकर प्रसाद के किस नाटक का पात्र है?

अ. राज्यश्री

ब. चन्द्रगुप्त

स. ध्रुवस्वामिनी

द. स्कन्दगुप्त

उत्तर- द

कुमारदास (धातुसेन) जो सिंहल का राजकुमार था।


स्कन्दगुप्त के पुरुष पात्र

स्कन्दगुप्त— युवराज

कुमारगुप्त— मगध का सम्राट

गोविन्दगुप्त— कुमारगुप्त का भाई

पर्णदत्त— मगध का महानायक

चक्रपालित— पर्णदत्त का पुत्र

बन्धुवर्मा— मालव का राजा

भीमवर्मा— मालव राजा का भाई

मातृगुप्त— (काव्यकर्ता कालिदास)

प्रपंचबुद्धि— बौद्ध कापालिक

शर्वनाग— अन्तर्वेद का विषयपति

कुमारदास (धातुसेन)— सिंहल का राजकुमार

भटार्क— नया महाबलाधिकृत

पृथ्वीसेन— मंत्री कुमारामात्य

खिंगिल— हूण आक्रमणकारी

मुद्गल— विदूषक

प्रख्यातकीर्ति— लंकाराज कुल का श्रमण, महाबोधिबिहार — स्थविर


स्त्री पात्र

देवकी— कुमारगुप्त की बड़ी रानी, स्कन्द की माता

अनन्तदेवी— कुमारगुप्त की छोटी रानी, पुरगुप्त की माता

जयमाला— बंधुवर्मा की स्त्री, मालव की रानी

देवसेना— बंधुवर्मा की बहिन

विजया— मालव के धनकुबेर की कन्या

कमला— भटार्क की जननी

रामा— शर्वनाग की स्त्री

मालिनी— मातृगुप्त की प्रणयिनी


जयशंकर प्रसाद के किस नाटक का एक पात्र 'शर्वनाग' है?
अ. राज्यश्री
ब. स्कंदगुप्त
स. जनमेजय का नागयज्ञ
द. विशाख
उत्तर- ब
शर्वनाग अन्तर्वेद का विषयपति है। 

निम्नलिखित पात्रों को नाट्य कृतियों से सुमेलित कीजिए :

(A) स्कन्दगुप्त   (i) विशु

(B) कोणार्क    (ii) विलोम

(C) आषाढ़ का एक दिन (iii) प्रपंचबुद्धि

(D) सूर्य की पहली किरण से अन्तिम किरण (iv) शीलवती

(v) दाण्ड्यायन

कूट :

     a     b    c     d

(A) (iv)  (i)   iii)  (ii)

(B) (ii)  (iii) (i)   (iv)

(C) (iii)  (i)  (ii)  (iv)

(D)  (v)  (iv)  (ii)  (ii)

उत्तर- (C) 

  • प्रपंचबुद्धि जयशंकर प्रसाद के नाटक स्कन्दगुप्त का पात्र है, विशु जगदीश चन्द्र माथुर द्वारा लिखे कोणार्क नाटक का पात्र, आषाढ़ का एक दिन मोहन राकेश का नाटक है और विलोम उसका पात्र है, सूर्य की अंतिम किरण से सूर्य की पहली किरण तक नाटक के नाटककार सुरेन्द्र वर्मा थे, जिसका स्त्री पात्र शीलावती है। 


निम्नलिखित नाटककारों और नाटकों को सुमेलित कीजिए- (दिसम्बर, 2004, II)

     सूची- I         सूची- II 

(a) लक्ष्मीनागयण लाल (i) अमर सिंह राठौर 

(b) पं. उदयशंकर भट्ट (ii) कर्त्तव्य 

(c) श्री चतुरसेन शास्त्री (iii) राक्षस का मंदिर

(d) सेठ गोविंददास (iv) विक्रमादित्य 

(v) शिवसाधना 

कोड:

    a    b   c  d

A.  i    ii  iv iii  

B.  ii   iii i  iv    

C.  iii  iv  i  ii  

D.  v    i   iv iii

उत्तर- C 




Previous Post Next Post