भारत में समाजशास्त्र के जनक: गोविन्द सदाशिव घुर्ये


  • इंडोलॉजी के प्रतिपादक (शास्त्रीय ग्रंथों व भारतीय चिंतन पर आधारित)  
  • भारत में समाजशास्त्र के जनक


प्रसिद्ध पुस्तकें:

  • कास्ट, क्लास एंड ऑक्यूपेशन (161)
  • Caste and Race in India (1932)
  • culturce and Society (1945)
  • cities and Civilization (1962)
  • The Scheduled Tribes (1963)
  • The Indian Sadhus (1964)
  • India Recreats Democracy (1978)
  • Vadic India (1979)

पिछड़े हिंदू - जनजातियों को कहा

आत्मसात की नीति - आदिवासियों की समस्या- समाधान नीति

प्रस्थिति समूह - जातिय समूहों को कहा।

छः प्रजातीय समूहों (इंडो आर्यन, पूर्व द्रविड, पश्चिमी मुंडा और मंगोलियन)

जाति को पूर्णत: भारतीय प्रघटना नहीं माना।

अंतर्जातीय विवाह - जाति में परिवर्तन हेतु सुझाव दिया।

ये भी पढ़ें-


भारत में समाजशास्त्र के जनक: गोविन्द सदाशिव घुर्ये

Post a Comment

0 Comments