Youtube

अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस


अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस को मनाने का उद्देश्य विश्व  के सभी बाघों के निवास के संरक्षण, विस्तार तथा उनकी स्थिति के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देना है। वर्ष 2010 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में बाघ सम्मेलन में 29 जुलाई को प्रतिवर्ष ‘अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस’ मनाने का निर्णय लिया गया था।
बाघ की आबादी वाले 13 देषों ने संकल्प लिया था कि वर्ष 2022 तक बाघों की आबादी दुगुनी कर देंगे। इन देशों में 3,948 बाघ है। जिसमें से भारत में बाघों की संख्या कुल 1,706 है।
भारत में बाघ संरक्षण कार्यक्रम-
भारत का राष्ट्रीय पशु बंगाल टाइगर (पैंथेरा टाइग्रिस) है।
वन्य जीवों को संरक्षित करने के उद्देष्य से वन्यजीव संरक्षण अधिनियम-1972 लाया गया, जिसके तहत बाघ संरक्षण हेतु परियोजना गठित की।

Post a Comment

0 Comments