राजस्थान को प्रगतिशील डेयरी किसान एवं सर्वश्रेष्ठ कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन श्रेणी में मिला राष्ट्रीय गोापल रत्न पुरस्कार

राजस्थान को राष्ट्रीय गोापल रत्न पुरस्कार

राजस्थान को राष्ट्रीय गोापल रत्न पुरस्कार


  • केंद्रीय पशुपालन, मत्स्य और डेयरी मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना के तहत राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड, आनन्द (गुजरात) ने 26 नवम्बर, 2021 को गाय-भैंसों की प्रमाणित स्वदेशी नस्लों की डेयरी करने वाले किसानों, सर्वश्रेष्ठ कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन तथा सहकारी एवं दुग्ध उत्पादक कम्पनियों को प्रोत्साहन स्वरूप गोपाल रत्न पुरस्कार दिए गए। 
  • कार्यक्रम में केन्द्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री श्री पुरुषोत्तम रूपाला ने गोपाल रत्न पुरस्कार की 9 श्रेणियों में पुरस्कार प्रदान किए।
  • इसके तहत स्वदेशी नस्लों से डेयरी व्यवसाय करने वाले राजस्थान के प्रगतिशील डेयरी किसान श्री सुरेन्द्र अवाना और सर्वश्रेष्ठ कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन श्री राजेश बागड़ा को राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार प्रदान किया गया। 
  • राजस्थान से स्वदेशी नस्लों की डेयरी किसान में प्रथम पुरस्कार के रूप में श्री सुरेन्द्र आवाना को 5 लाख रुपए एवं सर्वश्रेष्ठ कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन श्री राजेश बागड़ा को तृतीय पुरस्कार स्वरूप 2 लाख रुपए देकर सम्मानित किया।
  • इन पुरस्कारों के मिलने से प्रदेश के डेयरी किसानों और पशुपालन विभाग के कार्मिकों को ज्यादा कर्मठता से काम करने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा।

Post a Comment

Previous Post Next Post