Competition Herald आज ही Online खरीदे 50% डिस्काउंट पर

Tuesday, October 30, 2018

राजस्थान में संभाग व्यवस्था



  • राजस्थान में सर्वप्रथम संभागीय व्यवस्था को 1949 ई. में प्रारंभ किया गया। इस समय राजस्थान में केवल 5 संभाग थे। 1 नवम्बर 1956 ई. को एकीकरण पूरा होने पर 6वां संभाग 'अजमेर' को बनाया गया। 
  • 1962 ई. में 'मोहनलाल सुखाडिया' द्वारा संभागीय व्यवस्था को समाप्त कर दिया गया तथा 1987 ई. में पुनः 'हरिदेव जोशी' सरकार के द्वारा संभागीय व्यवस्था को प्रारंभ किया गया। 
  • 4 जून 2005 को भरतपुर को नया संभाग बनाया - जिसमें भरतपुर, धौलपुर, जयपुर संभाग से एवं करौली, सवाई माधोपुर, 'कोटा संभाग' से लिये गये।
  1. बीकानेर संभाग- बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़, चुरू। 
  2. जोधपुर संभाग-जोधपुर, जैसलमेर, बाड़मेर, सिरोही, पाली, जालौर। 
  3. अजमेर संभाग-अजमेर, नागौर, टोंक, भीलवाडा। 
  4. उदयपुर संभाग-उदयपुर, बांसवाडा, प्रतापगढ़, चितौडगढ़, डूंगरपुर, राजसमन्द। 
  5. कोटा संभाग- कोटा, बूंदी, झालावाड, बारां। 
  6. जयपुर संभाग-जयपुर, अलवर, सीकर, झुंझुनूं, दौसा। 
  7. भरतपुर संभाग- भरतपुर, करौली, धौलपुर, सवाईमाधोपुर। 






No comments:

Post a Comment

Loading...