Youtube

Aabhaneri हर्षत माता का मंदिर, आभानेरी



राजस्थान के दौसा जिले में स्थित आभानेरी ऐतिहासिक दृष्टि से अपना विशेष महत्व रखता है। इस ऐतिहासिक स्थल पर चांद बावड़ी और हर्षत माता का प्रसिद्ध मंदिर है। हर्षत माता हर्ष और उल्लास की देवी के रूप में भी जानी जाती है। यह मंदिर दुर्गा माता को समर्पित है।

इस मंदिर का निर्माण चैहान वंशीय राजा चांद ने 8वीं-9वीं सदी में करवाया था। आभानेरी का मूल नाम आभा नगरी था।

महामेरू शैली में बने इस मंदिर का गर्भगृह में प्रदक्षिणापथ युक्त पंचरथ है, जिसके अग्रभाग में स्तम्भों पर आधारित मंडप है। गर्भगृह एवं मंडप गुम्बदाकार छत युक्त हैं। जिसकी बाहरी दीवारों की ताखों मे देवी-देवताओं की प्रतिमाएं उत्कीर्ण है। ऊपरी जगती के चारों और ताखों में रखी सुंदर मूर्तियां जीवन के धार्मिक और लौकिक दृश्यों को दर्शाती है। यह मंदिर की मुख्य विशेषता है।


मन्दिर के निर्माण में काम में लिए पत्थरों पर शानदार नक्काशी की गई। पत्थरों की इंटरलाॅकिंग कर इसका निर्माण हुआ है।

Post a Comment

0 Comments