Youtube

मूर्त संक्रियात्मक अवस्था के प्रमुख कौशलों में से एक है?

 

मूर्त संक्रियात्मक अवस्था

निम्नलिखित वर्णन को पढ़िये तथा कोहलबर्ग के नैतिक तर्क की अवस्था को पहचानिए-

वर्णन- अन्तःकरण के स्व-चयनित नैतिक सिद्धान्तों के द्वारा सही कार्य परिभाषित किया जाता हैजो कानून एवं सामाजिक समझौते पर ध्यान दिये बिना सम्पूर्ण मानवता के लिए वैध होता है।

1. सार्वभौम नैतिक सिद्धान्त अभिविन्यास

2. यंत्रीय उद्देश्य अभिविन्यास

3. सामाजिकअनुबंधन अभिविन्यास

4. सामाजिकक्रम व्यवस्था अभिविन्यास

उत्तर- 1

 

निम्नलिखित में से कौनसा मूर्त संक्रियात्मक अवस्था के प्रमुख कौशलों में से एक है?

1. द्वितीय वर्तुल प्रतिक्रियाएँ

2. सजीवात्मक चिंतन

3. तुलनासमानता व असमानता बताने की योग्यता

4. परिकल्पित निगमनात्मक तर्क

उत्तर- 3

 

जीन पियाजे एवं वाइगोत्स्की जैसे मनोवैज्ञानिक संरचनवादी अधिगम को किस रूप में देखते हैं?

1. सक्रिय विनियोजन से अर्थ-निर्माण की प्रक्रिया

2. कौशलों का अर्जन 

3. प्रतिक्रियाओं का अनुबंधन

4. निष्क्रिय आवृत्तीय प्रक्रिया

उत्तर- 1

 

वह अवधि, जो वयस्कता के संक्रमण की पहल करती है, उसे क्या कहते हैं-

1. बाल्यावस्था की समाप्ति

2. किशोरावस्था

3. मध्य बाल्यावस्था

4. पूर्व-क्रियात्मक अवधि

उत्तर- 2

 

एक प्रारम्भिक कक्षा-कक्ष में एक बालक /बालिका अपने साथ जो अनुभव लाते/लाती हैं-

1. उन्हे शामिल कर उनका संचय करना चाहिए

2. उन्हे अस्वीकार करना चाहिए

3. उनकी उपेक्षा करनी चाहिए

4. उन पर ध्यान नहीं देना चाहिए

उत्तर- 1

 

कोहलबर्ग के अनुसार, एक बालक के नैतिक विकास के कौनसे स्तर में वह नैतिक मूल्यों का आंतरीकरण (आभ्यंतरीकरण) प्रदर्शित नहीं करता है और बालक के नैतिक तर्क बाह्य पुरस्कार और दंड से नियंत्रित रहते हैं?

1. पूर्वपरंपरागत

2. परंपरागत

3. पश्यपरंपरागत

4. सार्वभौमिक नैतिक सिद्धान्त

उत्तर- 1

 

बालक की विवेचना (तर्क) तार्किक नहीं है और यह अन्तर्ज्ञान (अंतर्बोध) पर आधारित है न कि व्यवस्थित तर्क पर। पियाजे के अनुसार संज्ञानात्मक विकास की यह अवस्था कहलाती है-

1. संवेदी गामक काल

2. पूर्व-क्रियात्मक काल

3. मूर्त क्रियात्मक काल

4. औपचारिक क्रियात्मक काल

उत्तर- 2

 

एक बालक जिसे मानव संपर्क से पृथक बड़ा किया गया है, प्रायः दीर्घकाल तक अत्यधिक भाषा की कमी को दर्शाता है, जो बाद में भाषा उद्भाषन अनुभवों द्वारा पूर्ण रूप से बिरले ही पूरी होती है। यह साक्ष्य भाषा विकास के कौनसे पक्ष पर बल देता है?

1. वातावरणीय

2. जैविकीय

3. अन्तः क्रियावादी

4. व्यावहारिक

उत्तर- 3

 

बालकों की सामाजिक दक्षता के विकास के लिए निम्नलिखित में से कौनसी परवरिश शैली अधिकतम प्रभावी है?

1. अधिनायकवादी

2. लापरवाह

3. प्राधिकारिक

4. कृपालु

उत्तर- 3

 

विकास के संबंध में निम्नलिखित में से कौनसा सार्थक तथ्य है?

1. यह पूर्वानुमान के अनुसार नहीं होता है

2. यह आनुवांशिकी और वातावरण की अन्तःक्रिया का परिणाम है

3. सभी व्यक्ती समान दर से विकास करते हैं

4. विकास विशिष्ट से सामान्य की और अग्रसर होता है

उत्तर- 2

 

चॉमस्की के अनुसार, भाषा अर्जित करने की एक अन्तर्जात क्षमता है, जो मानव को जैविक वंशागति के फलस्वरूप प्राप्त अद्वितीय क्षमता है, को कहते हैं-

1. भाषा अनुकूलन श्रेणी

2. भाषा अर्जन साधन/तंत्र

3. भाषा स्वीकार्य इच्छा

4. भाषा ज्ञान

उत्तर- 2

 

विकास के पक्ष (क्षेत्र) जैसे कि शारीरिक, संज्ञानात्मक, सामाजिक और संवेगात्मक निम्नलिखित में से कौनसी प्रक्रिया से विकसित होते हैं?

1. पृथकता से

2. आंशिकता से

3. यादृच्छिकता से

4. समग्रता और साकल्यता (संपूर्णता) से

उत्तर- 4

 

वाइगोत्स्की के अनुसार, वह कार्य (कृत्य) जो बालक के स्वयं के लिए अत्यधिक कठिन है, परंतु किसी प्रौढ़ और अधिक कुशल साथी की सहायता से करना संभव हो, कहलाता है-

1. निर्देशित सहभागिता

2. स्कैपफोल्डिंग (पाड़ या ढांचा)

3. आसन्न विकास क्षेत्र

4. अन्तःव्यक्तिनिष्ठता

उत्तर- 2

 

प्रगतिशील शिक्षा में बच्चों को किस प्रकार से देखा जाता है?

1. खाली प्लेटों के रूप में

2. छोटे वयस्कों के रूप में

3. निष्क्रिय अनुकारकों के रूप में

4. सक्रिय अन्वेषकों के रूप में

उत्तर- 4

 

निम्नलिखित कथनों में से कौनसा विकास एवं अधिगम के बीच के संबंध को सही प्रकार से सूचित करता है?

1. विकास एवं अधिगम अंतः संबन्धित और अंतः निर्भर होते हैं।

2. विकास एवं अधिगम संबन्धित नहीं है।

3. अधिगम विकास का ध्यान किए बिना घटित होता है।

4. अधिगम की दर विकास की दर से काफी अधिक होती है।

उत्तर- 1

 

लेव वाइगोत्स्की के अनुसारआधारभूत मानसिक क्षमताओं को मुख्य रूप से किसके द्वारा उच्चतर संज्ञानात्मक प्रक्रियाओं में बदला जाता है

1. अनुकूलन एवं संघटन

2. पुरस्कार एवं दंड

3. सामाजिक पारस्परिक क्रिया

4. उद्दीपनअनुक्रिया संबंध

उत्तर- 3

 

एक बच्चा तर्क प्रस्तुत करता हैकि हिन्ज को दवाई की चोरी नहीं करना चाहिए (वह दवाई जो उसकी पत्नी की जान बचाने के लिए जरूरी है)क्योंकि यदि वह ऐसा करता हैतो उसे पकड़ लिया जाएगा और जेल भेज दिया जाएगा। 'कोहलबर्गके अनुसारवह बच्चा नैतिक समझ की किस अवस्था के अंतर्गत आता है?

1. सार्वभौम नैतिक सिद्धांत अभिविन्यास

2. यंत्रीय उद्देश्य अभिविन्यास

3. सामाजिकक्रम नियंत्रक अभिविन्यास

4. दंड एवं आज्ञापालन अभिविन्यास

उत्तर- 4

 

जो बच्चे स्वयं से मौखिक संवाद करते हैंउन्हें लेव वाइगोत्स्की क्या कहते हैं?

1. समस्यात्मक वार्ता

2. अहंकेंद्रित वार्ता

3. व्यक्तिगत वार्ता

4. भ्रांत वार्ता

उत्तर- 3

 

लेव वाइगोत्स्की के अनुसारअधिगम-

1. एक अनुबंधित गतिविधि है

2. एक सामाजिक गतिविधि है

3. एक व्यक्तिगत गतिविधि है

4. एक निष्क्रिय गतिविधि है

उत्तर- 2


शारीरिक शिक्षा व खेलों में सबसे प्रभावी जन-संपर्क है

1. अभिभावकअध्यापक सभा

2. उपकरणों का प्रबंध

3. प्रतिस्पर्धा कार्यक्रम

4. रिकार्ड्स का रखरखाव

उत्तर– 1

 

वृद्धि निम्नलिखित कालों में से किस काल में सबसे अधिक होती है?

1. शैशवकाल

2. बाल्यावस्था

3. प्रौढ़ावस्था

4. उपर्युक्त सभी

उत्तर– 1


पियाजे के अनुसार, विशिष्ट मनोवैज्ञानिक संरचनाओं (अनुभव से सही अर्थ निकालने के व्यवस्थित तरीके) को क्या कहा जाता है?

1. मानसिक मैप

2. मानसिक उपकरण

3. स्कीमा

4. प्रतिमान

उत्तर- 3

 

परिवार एवं पास-पड़ौस, बच्चों के सामाजीकरण की-

1. मनोवैज्ञानिक एजेंसियां हैं

2. प्राथमिक एजेंसियां हैं

3. मध्य एजेंसियां हैं

4. द्वितीयक एजेंसियां हैं    

उत्तर- 2

 

संरचनावादी उपागम बताता है कि .........ज्ञान की संरचना के लिए अत्यंत आवश्यक है।

1. विद्यार्थी का पूर्वज्ञान

2. अनुबंधन

3. दण्ड

4. यंत्रवत

उत्तर- 1

  

निम्नलिखित में से कौनसा विकास के व्यापक आयामों की सही पहचान करता है?

1. सामाजिक, शारीरिक, व्यक्तिगत एवं स्व

2. शारीरिक, संज्ञानात्मक, सामाजिक एवं संवेगात्मक

3. संवेगात्मक, बौद्धिक, आध्यात्मिक एवं स्व

4. शारीरिक, व्यक्तिगत, आध्यात्मिक एवं संवेगात्मक

उत्तर- 2

 

निम्नलिखित में कौन प्राथमिक समाजीकरण का माध्यम है?

1. मीडिया

2. परिवार

3. विद्यालय

4. सरकार

उत्तर- 2

 

बालक के विकास के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौनसा सत्य है?

1. विकास की गति बालक और बालिकाओं में एक समान होती है। 

2. विकास सामान्य से विशिष्ट की और अग्रसर होता है।

3. विकास केवल आनुवांशिकी का परिणाम है।

4. विकास सतत प्रक्रिया नहीं है।

उत्तर- 2

 

किशोरों के शारीरिक विकास के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौनसा कथन असत्य है?

1. मांसपेशीय ताकत में वृद्धि 

2. शरीर के अनुपात में कोई परिवर्तन न होना

3. लैंगिक लक्षणों का विकास

4. शारीरिक क्रियाओं और योग्यताओं में वृद्धि

उत्तर- 2

 

किशोरावस्था में बालक अच्छे से तैयार होते हैं, दर्पण में अपने चेहरे को निरंतर देखते हैं तथा केवल अपने आप से प्यार करते हैं। फ्रायड ने किशोरावस्था की इस विशेषता को क्या कहा?

1. हीरो (नायक) की पूजा

2. आत्म-मोह

3. समूह प्रवृति

4. लैंगिक प्रेरण

उत्तर- 2

 

निम्न में से कौनसी ग्रंथि व्यक्तित्व विकास को प्रभावित नहीं करती है?

1. पिट्यूटरी ग्रंथि

2. एड्रीनल ग्रंथि

3. थायराइड ग्रंथि

4. पिनियल ग्रंथि

उत्तर– 4

 

संगठन का आवश्यक सिद्धान्त है

1. धन कमाना

2. संगठन का नाम व ढांचा

3. विभागीय

4. रोजगार अवसर

उत्तर– 3

 


Post a Comment

0 Comments