न्यूज़ पढ़ने के लिए क्लिक करें

न्यूज़ पढ़ने के लिए क्लिक करें
9.71 करोड़ में बिका यह कबूतर, आखिर क्या खूबी है इसकी

Competition Herald आज ही Online खरीदे 50% डिस्काउंट पर

Sunday, October 14, 2018

क्यूं लड़े हम


क्यूं लड़े हम,
जात-धर्म के वास्ते?
क्या दिया हमें,
सिर्फ नफरत,
श्रेष्ठता के नाम पर गरीबी,
नारी से, नर से द्वेष।
सिर्फ चंद लोगों ने,
वजूद जिन्दा रखने के वास्ते,
हमें लड़ाकर,
सिर्फ जख्म दिये।
सोचा कभी आपने,
एक ही धर्म का जन,
श्रेष्ठता के दम्भ में,
एक भीख मांगता है उस जन से।
यही हाल जाति का,
एक राजवंशों का सुख भोगे,
दूजा दो जून की रोटी के वास्ते,
बस संघर्ष करता पूर्वजों की परिपाटी में।
ऐसा ही कुछ विचारधाराएं कहती है,
पर महत्त्वाकांक्षी की रोटी पकती है।
हां, हम ही लड़ते हैं,
उनके उकसाने पर।


No comments:

Post a Comment

मोनाजाइट किसका अयस्क है

सिरका एसिटिक अम्ल का जलीय विलयन है। थर्माकोल को कृत्रिम रबड़ कहा जाता है।  कपूर को उर्द्धपातन विधि द्वारा शुद्ध किया जाता है। ‘त्रिक ...

Loading...