Saturday, January 20, 2018

एक फोन करों और होम फर्निशिंग के पर्दे का बेहतरीन काम करवाएं






  • केशवसिंह राजपूत अपने हाथों के हुनर का धनी है किन्तु अपने स्पष्ट और हक के लिए लड़ने की वजह से अपने मालिक के साथ संबंध सही नहीं होने और जिसके यहां काम करते समय ने कोई समय सीमा तय थी, की वजह से अपना रोजगार छोड़ कर आज खुद का छोटा से होम फर्निशिंग का व्यवसाय शुरू किया है। वह अपने सेठ के यहां पर से कई होटलों में पर्दे लगा चुका है। 
  • आपके शहर जयपुर में इस हुनरमंद को अपनी सेवा का एक मौका अवश्य दें। जिनमें प्रमुख शहरों की बड़ी होटले जैसे -  उदयपुर, जयपुर की राजपूताना होटल, जोधपुर, जैसलमेर 

  • वह कहता है जब उसके सेठ के पास वह काम करता था तब उसके ऑफिस जाने का समय तय था लेकिन ऑफिस घर आने का समय तय नहीं था। ऑफिस स्टाफ में लगभग 20 से 30 लोग थे न रजिस्टर्ड थी और न ही इतना स्टाफ होने के बाद भी सरकार द्वारा तय मानदंड को पूरा करती थी। यहां मजदूरों का शोषण होता था। जब केशव इसका विरोध करता था तो कोई उसका साथ नहीं देता था क्योंकि सबको अपने रोज़गार छिनने का डर सताता था कि बाद में रोजगार मिलेगा या नहीं। इसी भय के चलते वे लोग उसके मालिक व मालिकन के लिए चाय, यहां तक कि अपना पर्दें लगाने के साथ-साथ ऑफिस के बर्तन तक उन मजदूरों को करना होता था।
  • यह कारण रहा कि केशवसिंह राजपूत ने वहां अपने जैसे-तैसे 5-6 साल गुजारे लेकिन जब अति हो गई तो उसने वहां से काम छोड़कर अपना खुद का काम शुरू किया। 
  • मेहनत और इमानदारी से अपना काम करने वाले इस शख्स को अब आप लोगों का प्यार चाहिए। 
  • पूरा नाम- केशवसिंह राजपूत
  • पता - इन्दिरा गांधी नगर, जगतपुरा, जयपुर
  • मोबाइल - 9929465444

No comments:

Post a Comment

Loading...