Competition Herald आज ही Online खरीदे 50% डिस्काउंट पर

Friday, October 27, 2017

नोबेल पुरस्कार 2017 Nobel prize


1- भौतिकी का नोबेल पुरस्कार

तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों वैज्ञानिकों रेनर वाइस (Rainer Weiss), बैरी बैरिश (Barry Barish) और किप थॉर्न (Kip Thorne) को गुरुत्वाकर्षण तरंगों (Gravitational waves) का पता लगाने में उनके विशिष्ट योगदान के लिए वर्ष 2017 का भौतिकी का नोबेल पुरस्कार परदान करने की घोषणा नोबेल पुरस्कार समिति ने 3 अक्टूबर 2017 को की।

– अत्याधिक घने कृष्ण विवरों (super-dense black holes) के मेल से पैदा होने वाली गुरुत्वाकर्षण तरंगों का पता लगाने के लिए इन वैज्ञानिकों ने LIGO प्रयोगशाला (Laser Interferometer Gravitational-Wave Observatory) में लेज़र तरंगों का इस्तेमाल किया था।

2- चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार

जीवों के दैनिक कार्यकालापों पर नियंत्रण रखने वाली आंतरिक घड़ी (internal clock) पर अतुलनीय अनुसंधान के लिए किन तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों को वर्ष 2017 का चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार (2017 Nobel Prize in Medicine) प्रदान करने की घोषणा 2 अक्टूबर 2017 को की गई? – जेफरी सी. हाल, माइकल रोसबाश और माइकल डब्ल्यू. यंग

वर्ष 2017 का चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों – सी. हाल (Jeffrey C Hall), माइकल रोसबाश (Michael Rosbash) और माइकल डब्ल्यू. यंग (Michael W Young) में साझा किया जायेगा। इन तीन वैज्ञानिकों ने शरीर की गतिविधियों को नियंत्रित करने में बेहद महत्वपूर्ण मॉल्यूक्यूलर मैकेनिज़्म (molecular mechanisms) का पता लगाया था। इन मॉल्यूक्यूलर मैकेनिज़्म को आसान शब्दों में शरीर की 24-घण्टे की घड़ी (the 24-hour body clock) कहा जा सकता है।

– अपने अनुसंधान के द्वारा इन तीन वैज्ञानिकों ने यह पता लगाया था कि पृथ्वी के जीव जैसे पेड़-पौधे, मनुष्य तथा जानवर पृथ्वी के घूर्णन (Earth’s revolutions) के साथ अपनी दैनिक गतिविधियों का तारम्य बैठाने के लिए अपनी आंतरिक घड़ी (internal clock) का इस्तेमाल किस प्रकार करते हैं।

3- रसायनशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

तीन यूरोपीय मूल के वैज्ञानिकों – जाक डबोशे, जोएकिम फ्रैंक और रिचर्ड हेण्डरसन को रसायनशस्त्र के किस क्षेत्र में दिए उल्लेखनीय योगदान के लिए वर्ष 2017 का रसायनशास्त्र का नोबेल पुरस्कार (2017 Nobel Prize for Chemistry) प्रदान किया जा रहा है? – बायोमॉल्यूक्यूल्स की गतिविधियों की गतिविधियों को कैद करने में सक्षम क्रायो इलेक्ट्रिक माइक्रोस्कोपी (cryo-electric microscopy) के विकास के लिए

- बायोमॉल्यूक्यूल्स (यानि जैव अणुओं) की गतिविधियों की गतिविधियों को कैद करने में सक्षम क्रायो इलेक्ट्रिक माइक्रोस्कोपी के विकास के लिए तीन वैज्ञानिकों – स्विट्ज़रलैण्ड के जाक डबोशे (Jacques Dubochet), अमेरिका के जोएकिम फ्रैंक (Joachim Frank) और ब्रिटेन के रिचर्ड हेण्डरसन (Richard Henderson) को वर्ष 2017 का रसायनशास्त्र का नोबेल पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा नोबेल समिति ने 4 अक्टूबर 2017 को की।

– इन तीनों वैज्ञानिकों के प्रसासों के कारण प्रोटीन और अन्य मॉलीक्यूल्स को जमी हुई अवस्था (frozen state) में लाकर उनका अत्यंत उच्च गुणवत्ता वाला चित्र लिया जा सकता है। इनके प्रयासों के कारण हाल ही में चर्चा में आए ज़ीका (Zika) वायरस की सतह पर मौजूद प्रोटीन का चित्र लेना भी संभव हुआ है।























No comments:

Post a Comment

Loading...