न्यूज़ पढ़ने के लिए क्लिक करें

न्यूज़ पढ़ने के लिए क्लिक करें
9.71 करोड़ में बिका यह कबूतर, आखिर क्या खूबी है इसकी

Competition Herald आज ही Online खरीदे 50% डिस्काउंट पर

Saturday, August 19, 2017

टोंक में ‘वसुन्धरा सखी महिला वाहन‘ में फ्री और सुरक्षित सफर करेंगी महिलाएं


जयपुर 19 अगस्त। टोंक नगर परिषद ने महिलाओं को अपने गंतव्य तक फ्री एवं सुरक्षित पहुंचाने के लिए एक नई पहल की है। परिषद की ओर से ‘वसुन्धरा सखी महिला वाहन‘ के नाम से ई-रिक्शा चलाए जा रहे हैं, जिसकी शुरूआत मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने शनिवार को मुख्यमंत्री निवास से हरी झंड़ी दिखाकर की।
वसुन्धरा सखी महिला वाहन की पहली सवारी भी श्रीमती राजे बनीं और टोंक नगर परिषद सभापति श्रीमती लक्ष्मी जैन के आग्रह पर वे उसमें बैठीं।
मुख्यमंत्री ने महिलाओं को फ्री और सुरक्षित रूप से उनके गंतव्य तक पहुंचाने की इस अभिनव पहल के लिए टोंक नगर परिषद् सभापति की सराहना की और कहा कि अन्य निकायों को भी इस तरह के नवाचार अपनाने चाहिएं, जिसका फायदा लोगों को मिले।

इन ई-रिक्शा में केन्द्र और राज्य सरकार की प्रमुख फ्लैगशिप योजनाओं की जानकारी भी फ्लैक्स तथा एलसीडी पर डिस्प्ले होगी। साथ ही महिलाओं की सुरक्षा के लिए इनमें सीसीटीवी और जीपीएस लगाए गए हैं। इसके अलावा वसुन्धरा सखी हैल्पलाइन, पुलिस कंट्रोल रूम तथा महिला हैल्पलाइन के टेलिफोन नंबर भी प्रदर्शित किए गए हैं।
टोंक नगर परिषद् सभापति ने बताया कि प्रथम चरण में फिलहाल तीन ई-रिक्शा वसुन्धरा सखी महिला वाहन के रूप में तैयार किए गए हैं। इन वाहनों को प्रमुख रूप से उन स्थानों पर रखा जाएगा जहां महिलाआें की आवाजाही अधिक रहती है। प्रसूताओं आदि की मदद के लिए एक वाहन को जिला अस्पताल के बाहर खड़ा रखा जाएगा।


No comments:

Post a Comment

मोनाजाइट किसका अयस्क है

सिरका एसिटिक अम्ल का जलीय विलयन है। थर्माकोल को कृत्रिम रबड़ कहा जाता है।  कपूर को उर्द्धपातन विधि द्वारा शुद्ध किया जाता है। ‘त्रिक ...

Loading...